आत्म विश्वाश बढ़ाने के लिए कुछ जरूरी टिप्स

 "How to increase  self confidence ?"

"अक्सर हमारी जिंदगी में ऐसे पड़ाव भी आते हैं, जब हम  लगातार मिल रही असफलता की वजह  से अपना आत्मविश्वाश खोने लगते हैं और धीरे धीरे खुद को बहुत अकेला महसूस करने लगते हैं ।  ऐसे हालात  के आने का कोई समय या कोई उम्र नही होती। ऐसा हमारे साथ उम्र के किसी भी पड़ाव पर  हो सकता है । ऐसे हालत में आत्म विश्वाश को कैसे बनाये रखे  ? या तो हम इन हालात  पर विजय पाकर आगे बढ़ते हैं या फिर इन हालातो में खुद को कमजोर महसूस करके असफल हो जाते हैं। यह हमारी इच्छा शक्ति पर निर्भर करता है।  हमारे आत्मविश्वास  पर निर्भर करता है। "

दोस्तों इस लेख में हम आपको बतायेंगे की आप अपने आत्मविश्वास को कैसे बढ़ा सकते हैं या जिंदगी के मुश्किल पलों  में आप अपना खोया हुआ आत्मविश्वाश फिर से कैसे वापस  पा सकते हैं ? आइए बात करते हैं कुछ ऐसे ही टिप्स के बारे में जो आपके लिए आपके आत्मविश्वाश को बनाये रखने या उसको बढ़ाने में मददगार साबित हो सकते हैं।


                                       
how to improve self confidence

  • अपने आत्मविश्वाश को बढ़ाने के लिए या उसको बनाये रखने के लिए सबसे पहले यह जरूरी है की आपको ये पता होना चाहिये  की आपकी ताकत क्या है ? मतलब आपके व्यक्तित्व की विशेष बाते हैं ? आप अपनी ताकतों को पहचानकार उनको जानकर अपना आत्मविश्वाश बड़ा सकते हैं।
  • आप किसी ऐसे व्यक्तित्व को अपना रोल मॉडल अवश्य बनाये जिसकी जिंदगी ,जिसके कार्य आपको आगे बढ़ने के लिए   प्रेरित करते हों । 
  • हमेशा अपने साथ एक अच्छी प्रेरणादायक पुस्तक रखें जब भी  खुद को कमजोर महसूस करें तब आप इस पुष्तक को पढ़  सकते हैं और अपने आत्मविश्वाश को बनाये रक् सकते हैं। 
  • अगर आपको  कोई कार्य करने में , कोई स्टेप लेने में डर  लग रहा है या आप घबरा रहे हैं  तो इसको नकारात्मक रूप में न लें इसको सकारात्मक लें क्यों की आपको डर आपको जागरूक   रखता है।  जब आप घबरा रहे होते हैं तो इसका मतलब है की आप कुछ करने की तैयारी कर रहे होतें हैं।  ये घबराहट आपको शक्ति देती  हैं।  याद रखें की डर  के आगे जीत है !
  • जब भी आपको घबराहट हो तो बार बार अपनी सफलताओ को याद करें। 
  • अक्सर हमारे मन में ये डर बना  रहता है की लोग  क्या कहेंगे ? तो देखिये बात ऐसी है की अगर कोई आपकी सच्ची बुराई करता है मतलब जो बाते वह आपके बारे में कह रहा है अगर वो सही हैं हैं तो आपको डरना नहीं है बल्कि आपको खुद में सुधार करना है। लेकिन अगर कोई ईर्ष्यावश आपकी बुराई कर रहा है तो इसका मतलब है की आपके अंदर दम है एक बात याद रखें की मरे हुए कुत्ते को कोई लात नहीं मारता है अगर कोई व्यक्ति ईर्ष्यावश आपकी बुराई कर रहा है तो इसका मतलब है की वह आपसे कह रहा है की आप लाइफ में  काफी आगे बढ़ सकते हैं। इसको सकारत्मक रूप में लें।  
  • दोस्तों जिंदगी से लड़ने के लिए आत्मविश्वास  जरूरी है और इसको बनाये रखने  सबसे जरूरी है की आप खुद से सकारात्मक बाते करें। 
  • अपनी असफलताओ का रिवीजन मत करो दुःख भरे पल हर  जिंदगी में आते हैं पर याद रखना वह स्थायी नहीं होते ।  
  • प्रथम बार में ही कार्य को सही करने  की आदत डालो अगर आप ऐसा कर पाते हैं तो इससे आपके आत्मविश्वाश में काफी वृद्धि होगी। 
  • जब भी आप असफलताओ के बारे में सोचने लगो ये पंक्तियाँ याद रखना -  

                            " असफलता एक चुनौती है , स्वीकार करो !
                                क्या कमी रह गयी देखो और सुधार  करो !!
                                जब तक न सफल हो नींद चैन की त्यागो तुम !
                                 संघर्ष का मैदान छोड़ मत भागो तुम !!
                                 बिना कुछ किये जय जय कार नहीं होती !
                                 मेहनत करने वालो की कभी हार नहीं होती !!"

  •       जब आप मेहनत करके संघर्ष करके सफल होते हैं तो आपकी मेहनत  की ख़ुशी आपसे यही कहेगी कि " आँधियो को जिद है जहा बिजलियाँ गिराने की, हमको भी जिद है वहीँ आशियाँ बनाने की " !
  •    साथ ही साथ ऊपरवाले से ू उन  लोगो के लिए भी प्रार्थना करो जो तकलीफ में हैं जो कमजोर हैं। 

हम उम्मीद करते हैं यह टिप्स आपके लिए महत्वपूर्ण साबित होंगे।  दोस्तों अगर आपको यह लेख पसंद आये तो कृपया इस ब्लॉग को फॉलो कर इसके फेसबुक पेज को फॉलो क्र हमारा आत्मविश्वाश बढ़ायें और अपने कमेंट , सुझाव अवश्य दें।  

Keywords: tips to improve self confidence in hindi, self confidence improvement tips in hindi, how to boost self confidence?, how to increase self confidence?,how to improve self confidence?,